प्रधान निदेशालय, रक्षा सम्पदा, मध्य कमान, लखनऊ के अंतर्गत बाबा भीमराव अम्बेडकर विश्वविद्यालय के प्रेक्षागृह में 15 नवम्बर 2018 से चल रही लखनऊ छावनी परिषद द्वारा आयोजित सांस्कृतिक कार्यक्रम ‘तरंग-2018’ का समापन समारोह का आयोजन आज दिनांक 17.11.2018 को किया गया। 07 राज्यों के छावनी परिषदों से आये छात्र-छात्राओं ने अपने-अपने राज्यों की झलक पेश कर प्रादेशिक संस्कृतियों का मिलन कराया।

समापन समारोह के अवसर पर मुख्य अतिथि के रूप में रक्षा सम्पदा की महानिदेशक श्रीमती दीपा बाजवा उपस्थित थीं। छावनी परिषद लखनऊ के अध्यक्ष मेजर जनरल प्रवेश पुरी जी ने मुख्य अतिथि को पुष्पगुच्छ भेंट कर उनका स्वागत किया। मुख्य अतिथि श्रीमती दीपा बाजवा जी ने दीप प्रज्ज्वलन कर कार्यक्रम की शोभा बढ़ाई। तत्पश्चात् छावनी परिषद लखनऊ के बच्चों ने वैदिक मंगलाचरण की रंगारंग प्रस्तुति करके मुख्य अतिथि का स्वागत किया।

छावनी परिषद लखनऊ के बच्चों ने ‘‘स्वर ताल तरंग’’ एवं ‘‘जश्न-ए-अवध’’ कार्यक्रम की प्रस्तुति करके समा बाँधा। छावनी परिषद लखनऊ के सक्षम स्कूल के विशेष बच्चों द्वारा ‘जय हो’ कार्यक्रम प्रस्तुत करके समस्त दर्शकों को मंत्रमुग्ध किया। तत्पश्चात् छावनी परिषद लखनऊ की बालिकाओं ने महिला सशक्तिकरण को आत्मसात् करते हुये जोश से भरी ताइक्वांडो की प्रस्तुति दी एवं योग के महत्व को दर्शाते हुये योग प्रोटोकाल का प्रदर्शन किया।

छावनी परिषद लखनऊ की टीम को तंरग 2018 का सर्वश्रेष्ठ प्रदर्शन का पुरस्कार मुख्य अतिथि श्रीमती दीपा बाजवा के कर कमलों द्वारा दिया गया एवं छावनी परिषद मेरठ की टीम को उपविजेता का पुरस्कार दिया गया। तृतीय स्थान जबलपुर छावनी को प्राप्त हुआ। इसके अतिरिक्त विभिन्न विधाओं में विजित प्रतिभागियों को भी मुख्य अतिथि श्रीमती दीपा बाजवा द्वारा पुरस्कृत किया गया। अंत में तंरग 2018 में भाग लेने वाले 07 राज्यों के 22 छावनीयों के समस्त बच्चों को मेडल एवं प्रमाण पत्र प्रदान किया गया।

मुख्य अतिथि दीपा बाजवा ने कहा कि इस तरह के आयोजनों से नई प्रतिभाओं का विकास होगा। इस तरह के कार्यक्रमों से बच्चे एक दूसरे की जगह का रहन सहन, संस्कृति, बोल-चाल, नृत्य व ज्ञान से भी चिर परिचित होते हैं। मुख्य अतिथि ने शिक्षा पर जोर देते हुए कहा कि शिक्षा जहां व्यक्ति व उसके परिवार के भरण पोषण के लिए आवश्यक है वहीं नृत्य, गायन व अभिनय जैसी विधाओं का ज्ञान भी विद्यालयों में मिलना चाहिए।

कार्यक्रम के अन्त में छावनी परिषद लखनऊ के अध्यक्ष मेजर जनरल प्रवेश पुरी जी ने मुख्य अतिथि को स्मृति चिन्ह भेट किया। इस सम्पूर्ण कार्यक्रम के दौरान प्रधान निदेशालय, रक्षा सम्पदा, मध्य कमान के प्रधान निदेशक श्री जी. एस. राजेश्वरन, रक्षा सम्पदा संगठन के अन्य अधिकारी श्री राकेश मित्तल, श्री एस0एन0 गुप्ता, श्रीमती शोभा गुप्ता, श्री प्रसाद चव्हाण, श्री एस0एच0 खान, श्री हरेन्द्र सिंह, श्री एम0पी0आर0 त्रिपाठी, श्री नीरज जैन, श्री अभिषेक मणि त्रिपाठी इत्यादि मौजूद रहे। छावनी परिषद लखनऊ के सभासदगण श्रीमती रूपा देवी, श्रीमती स्वाति यादव, श्रीमती रीना सिंघानिया, श्री अमित शुक्ला एवं श्री संजय कुमार वैश्य भी उपस्थित रहे। श्री अमित कुमार मिश्रा मुख्य अधिशासी अधिकारी छावनी परिषद लखनऊ ने इस कार्यक्रम को सफल बनाने के लिए सभी को धन्यवाद किया। कार्यक्रम की पूर्णाहूति सामूहिक राष्ट्रगान गाकर हुई।

इसके अतिरिक्त शाम 07 बजे से दिलकुशा लान में 07 प्रदेशों के 22 छावनियों से आये बच्चों के लिये म्यूजिकल एवं कामेडी नाइट का आयोजन किया गया। इस म्यूजिकल एवं कामेडी नाइट में श्री सुनील पाल एवं श्री रोहित प्यारे स्टैण्ड अप कॉमेडियन जी ने उपस्थित होकर कार्यक्रम की शोभा बढ़ाई। उन्होंने कार्यक्रम में उपस्थित सभी को गुदगुदाया।

, , , , , , , , , , , , , , , , , , , , , , , , , , ,